शरीर अपना, अधिकार अपने कार्यक्रम के साथ फ़ेलो के रूप में जुड़ें

द वाई० पी० फाउंडेशन के फेलो शरीर अपना अधिकार अपने कार्यक्रम, जो एक राष्ट्रीय स्तर का कार्यक्रम है के साथ जुड़के काम करते है । यह लिंग, यौनिकताए स्वास्थ्य और अधिकारों पर सहज रूप से सही और प्रमाणित जानकारी प्रदान करता है, और यह जानकारी उपलब्ध कराने के लिए समुदाय, राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर पैरोकारी करता है। 

यह फ़ेलोषिप हर क्षेत्र के युवाओं के लिए उपलब्ध है। चूंकि यह एक पार्ट टाइम कार्य है, अतः स्कूल, कॉलेज या नौकरी के साथ-साथ भी इसे पूरा किया जा सकता है।

शरीर अपना, अधिकार अपने फ़ेलो के रूप में आप दिल्ली के कम संसाधन वाले समुदाय में जेंडर, यौन स्वास्थ्य और अधिकार, जेंडर आधारित हिंसा इत्यादि से संबंधित विभिन्न विष्यों पर वर्कशॉप आदि आयोजित करेंगे। इसके साथ-साथ, आपको इन मुद्दों के साथ अधिक गहराई से जुड़ने के अनेक अवसर प्रदान किए जाएंगे, जिसके तहत आपके रुचि वाले मुद्दे पर अपना खुद का पाठ्यक्रम तैयार करने से लेकर राज्य, राष्ट्रीय, और अंतर्राष्ट्रीय स्तरों के पैरवी मंचों में भाग लेने के अवसर शामिल होंगे। 

शरीर अपना, अधिकार अपने कार्यक्रम में अपनी भूमिका पूरी करने के बाद, आप न केवल कमजोर वर्ग के युवाओं को उनके शरीर से संबंधित जानकारी प्रदान कर चुके होंगे बल्कि उन्हें जेंडर और यौनिकता से जुड़े मिथक एवं कलंक को मिटाने हेतु कार्य करने के लिए अपने समुदाय का नेतृत्व करने में सक्षम बना चुके होंगे। आप यौन एवं प्रजनन स्वास्थ्य और अधिकारों से संबंधित सरकारी नीतियों की गहन समझ विकसित करने की भी अपेक्षा कर सकते हैं तथा उन प्रक्रियाओं के बारे में जान सकते हैं, जिनके माध्यम से आप सरकार के काम-काज को प्रभावित कर सकते हैं। अंत में, अपनी फेलोशिप पूरा करने पर, आपको एक प्रमाण पत्र और कार्यक्रम में अपने व्यक्तिगत योगदान को मान्यता प्रदान करने के लिए एक सर्टिफिकेट प्रदान किया जाएगा। 

27 मई को शाम 4 से 6 बजे  शरीर अपना, अधिकार अपने अपने फेलोशिप के प्रारंभिक सत्र के लिए ए-16 गीतांजली एन्क्लेवए बेसमेंटए मालवीय नगर  में हमसे मिलें।